Skip to Content

यौन दुराचार क्या होता है?

हाल ही में हुए यौन उत्पीड़न के बाद आपके अधिकार और विकल्प

1800RESPECT
25 AUG 2014

यौन दुराचार कोई भी, मैथुनिक या कामुकीकरण काम होता है जिससे एक व्यक्ति बेआराम, अभित्रस्त या भयभीत महसूस करता हो। यह ऐसा व्यवहार होता है जिसे एक व्यक्ति ने आमंत्रित और चयनित नहीं किया होता।
यौन दुराचार एक विश्वासघात तथा हरेक व्यक्ति के उस अधिकार का हनन होता है जिसमें व्यक्ति अपने शरीर के साथ क्या होना चाहिये उस पर अपनी बात कह सकता/ती है। यौन दुराचार अधिकार या शक्ति का दुरुपयोग होता है।
यौन दुराचार व्यस्कों तथा बच्चों, महिलाओं तथा पुरुषों, एवम् सभी प्रकार की पृष्ठभूमियों के लोगों के साथ किया जा सकता है।
यौन दुराचार को यौन दुर्व्यवहार या यौन हिंसा के रुप में भी उल्लिखित किया जा सकता है। यौन दुराचार को वर्णित करने वाले शब्दों, जैसे कि बलात्कार या यौन दुराचार का दोनों तरह का मतलब होता है, दैनिक बातचीत में इसका एक सामान्य अर्थ होता है तथा दण्डनीय यौन अपराधों के विवरण के लिये उपयोग के समय इसका विशेष अर्थ होता है। इस वेबसाइट पर, हम इन शब्दों का उपयोग केवल सामान्य तरीके से तथा सामान्य सूचना प्रदान करने के लिए कर रहे हैं।
यदि आपको लगता है कि एक दण्डनीय यौन अपराध हुआ है और आप उसकी शिकायत करना चाहते हैं तो, संभवतः आप आगे और सलाह भी लेना चाहेंगे। आप ऐसा आपके क्षेत्र में यौन दुराचार सेवा (ईंग्लिश में), पुलिस, आपके डॉक्टर या एक निजी वकील से संपर्क करके कर सकते हैं। इसमें समय एक कारक हो सकता है तथा यह सेवायें अधिकारों तथा विकल्पों के बारे में सूचना प्रदान कर सकती हैं।

यौन दुराचार कई रुपों में हो सकता है

यौन दुराचार क्या होता है यह मालुम होने से, जब हमारा कोई मित्र, परिवार का कोई सदस्य या ग्राहक जाहिर करता है कि उनके साथ दुराचार हुआ है तो, हमें प्रतिक्रिया व्यक्त करने में सहायता मिलती है। निम्नलिखित सूची में हमें यौन दुराचार के कुछ उदाहरण मिलते हैं:

  • यौन उत्पीड़न।

  • अनचाहा चुंबन या छुआ जाना।

  • दबाव डालकर या जबरदस्ती की गई यौन गतिविधियां, अथवा मैथुन संबंधी क्रिया-कलाप, इनमें वे  क्रिया-कलाप भी शामिल हैं जिनमें में हिंसा या दर्द सहित क्रिया-कलाप हों।

  • गुप्तांगों का प्रदर्शन 'झलक'  सहित।

  • पकड़ने के लिये पीछा करना।

  • जब आप नग्न हों या मैथुनिक गतिविधियां कर रहे हों उस समय आपकी अनुमति के बिना किसी का आपको देखना।

  • सहमति के बिना कामुक चित्रों को इंटरनेट पर डालना।

  • अश्लील साहित्य को देखने या उसमें हिस्सा लेने के लिये किसी के द्वारा दबाव डाला जाना या जबरदस्ती करना।

  • संभोग अथवा मैथुनिक गतिविधि के बारे में चयन करने की किसी व्यक्ति की क्षमता को कम या विकृत करने के लिये, पेय पदार्थों में मिलावट कर देना, अथवा नशीले पदार्थों या मदिरा का उपयोग।

  • किसी निद्रामग्न, मदिरा एवम्/अथवा अन्य नशीले पदार्थों से गंभीर रुप से प्रभावित व्यक्ति के साथ संभोग करना।

  • दबावपूर्ण, भयकारक अथवा शोषणपूर्ण बर्ताव के पैटर्न के एक हिस्से के रुप में कामुक या विचारोत्तेजक चुटकुले, कहानियाँ अथवा मैथुनिक तस्वीरें दिखाना।

  • बलात्कार (किसी भी छिद्र का किसी वस्तु से भेदन/प्रवेश)।

  • किसी बच्चे या दुर्बल व्यक्ति को किसी भी प्रकार की मैथुनिक गतिविधि में शामिल होने के लिये 'तैयार करना'।

  • एक बच्चे के साथ किसी भी प्रकार की मैथुनिक क्रिया।

यौन दुराचार, यौन भावाभिव्यक्ति के समान नहीं होता। यौन दुराचार एक अनचाहा मैथुनिक बर्ताव या कार्य होता है जिसमें बल जताने या किसी के चयन के अधिकार को नकारने के लिये भय, दबाव या शक्ति का उपयोग होता है। यौन दुराचार अथवा दुर्व्यवहार एक बार होने वाली घटना अथवा हिंसा के पैटर्न का एक हिस्सा हो सकते हैं। इसके शारीरिक, मानसिक तथा मनोवैज्ञानिक प्रभाव सहित विभिन्न तरह कर प्रभाव हो सकते हैं।

यौन दुराचार के बारे में तथ्य

यौन दुराचार के बारे में जिन महत्वपूर्ण बातों की जानकारी होनी चाहिये उनमें से कुछ इस प्रकार हैं:

  • अधिकांश यौन दुराचार पुरुषों द्वारा महिलाओं तथा बच्चों के साथ किये जाते हैं।

  • पुरुषों के साथ भी यौन दुराचार होते हैं; मुख्यतया अन्य पुरुषों द्वारा किये गये।

  • यौन दुराचार झेलने वालों में से अधिकांश व्यक्ति उस दुराचार के कर्ता को जानते हैं, या कुछ समय पूर्व ही उससे मिले होते हैं।

  • यौन दुराचार की कुछ क्रियायें दण्डनीय अपराध भी होती हैं।

  • पुलिस को इसकी रिपोर्ट करना एक कठिन निर्णय हो सकता है। हमारी न्याय प्रणाली की सीमायें, तथा प्रमाण एकत्रित करने के तरीके आमना-सामना कराने वाले (कनफ्रंटिंग) हो सकते हैं।

  • यौन दुराचार झेल चुके लोग विभिन्न तरीकों से प्रतिक्रिया देते हैं, कभी अत्यधिक भावनाओं से तो कभी पीछे हटकर। अन्तर्वैयक्तिक (इंटरपर्सनल) हिंसा के सदमें को समझने से हमें उचित प्रतिक्रिया करने में सहायता मिलती है।

  • यौन दुराचार हमारे समाज में विद्यमान शक्ति असंतुलनों का दुरुपयोग है।  

  • अधिकांश यौन दुराचारों की सूचना पुलिस को नहीं दी जाती।

यौन दुराचार के प्रभाव

अन्तर्वैयक्तिक (इंटरपर्सनल) हिंसा, जैसे कि यौन दुराचार, किसी व्यक्ति को होने वाले अत्यधिक घातक अनुभवों में से एक है। पीड़ित/सर्वाइवर में विश्वास जताकर तथा उन्हें गंभीरता से लेकर, उनकी तुरंत आवश्यकताओं का प्रत्युत्तर देने से, आगे और अधिक हानि को कम करने में सहायता मिलती है। लोगों के उबरने के साथ-साथ उन्हें निरंतर सहायता करना भी महत्वपूर्ण होता है; तथा ऐसा उनके तरीके से उनके समय में करना महत्वपूर्ण होता है।
यदि आप एक पीड़ित/सर्वाइवर की सहायता करने के बारे में और अधिक जानकारी चाहते हैं तो यौन दुराचार झेल चुके किसी व्यक्ति की सहायता कैसे की जाये पृष्ठ देखें।